किलि

आदिवासी हो’ जनजाति में लगभग 132 गोत्र हैं। प्रचलित लोक कथाओं के अनुसार किलियों(गोत्र) के विभाजन के सम्बंध में अलग-अलग मान्यताएँ प्रचलित हैं। हो जन जाति के विश्वास  के अनुसार,मंरग बोंगा के पुजा कर्म को आधार  माना गया है।

जैस, आदिकाल में जो मानव सिडवोंगा-पुजा(वोंगाबुरु) आरंभ किए उन्हें “बोबोंगा“ कहा गया। मिट्टी से लेपने काम किए वे हसा-दः या “हांसदः” हुए। घास-पात साफ कर गोबर लगाये वे लः-गुरिः या “लागुरी” कहलाए। इस पुजा में जिन्होंने रस्सी(सिकुवर बयेर) से बांधकर कंधे मे ढोने का कार्य शुरु किए उन्हें बा’-रि अर्थात “बारी” कहा गया।

समान किलि में शादी-ब्याह नही होता है। कुछ किलि असमान होते हुए भी एक दूसरे से वैवाहिक सम्बंध नही बनाते हैं। क्योंकि वे एक दुसरे को अपना भाई या “हगा” मानते हैं। कुझ क्षेत्रों (गाँव पीड़) में इस पर विवाद भी है।

 

किलि हगा
1.       आल्डा बारी, सावैयां, कालुन्डिया
2.       अंगारिय सिरका, मारली, जामुदा, देवगम, कांडेयड, चाम्पिया
3.       बागे तिरिया
4.       बालमुचू जेराई, सिंकू, होनहागा, चतोम्बा, तिरिया, दिग्गी
5.       बांदा बानरा, गोयपाई
6.       बांदिया गुंदवा, गिलुवा, मुंदुईया
7.       बांकिरा गागराई
8.       बानरा(बान्ड्रा) तियु, बोदरा, गोडसोरा
9.       बानसिंड बोदरा, ईचःगुटू, बानरा, चाकी
10.    बारायेड(बरिञ) लुगुन
11.    बारदा —————–
12.    बारी सावैयां, आल्डा, कालुन्डिया
13.    बारजो हेम्बरोम, बालमुचू
14.    बारला(मारला) ——————–
15.    भेंगरा ——————–
16.    भूमिज ———————-
17.    बिरुवा ———————–
18.    बोदरा बानसिड, ईचःगुटू, बानरा, मुण्डरी, लेयांगी
19.    बोयपाई(गोयपाई) कोडाः, सुरीन
20.    बोबोंगा सिंकू, हेस्सा ?
21.    बोरोय लागुरी
22.    बुंदुवा ————————
23.    बुड़ीउली(बिरुली) कुदादः, तुबिड्
24.    बुरुमः तिरिया
25.    बूतिया तियू
26.    चाकी चाम्पिया, दिग्गी
27.    चेरवा चाम्पिया
28.    चाम्पिया दिग्गी, सिरका, चाकी
29.    चातोम्बा सिंकू, चातर, बोबोंगा
30.    चातर चतोम्बा
31.    चिकिड?? बोदरा, बनसिड, हिरिम
32.    चोड़ा ——————
33.    डांगिल सामड्
34.    दाउड़िया ————-
35.    देवगम सुण्डी, होनहगा
36.    दिग्गी मुण्डा, पुरती, चाकी, सिंकू, लागुरी, सिहंकुंटिया, सुरीन, चाम्पिया
37.    दोरा —————–
38.    दोंगो होनहगा, जोंको
39.    दोराई कंडाईबुरू, हाईबुरु, जारिका
40.    डुकरी सोय
41.    डुरसुलि सोय
42.    गागराई जारिका, केराई, बांकिरा
43.    गंजू —————-
44.    गिलुवा बांदिया
45.    गोड्सोरा बानरा, तियु, तपेः, पिंगुवा, डुकरिया, कुंकल, हेस्साः, बांदा
46.    गुईया/ गोयपाई ————–
47.    गुंदिया ————
48.    गुंदुवा बांदिया
49.    हाईबुरू कंडाईबुरु, दोराईबुरु, जारिका, बोदरा, तियू, बालमुचू
50.    हांसदः तुबिड्, सुजुई
51.    हेम्बरोम कोड़ाः, बोयपाई, बारजो, बानरा
52.    हेस्साः पिंगुवा, सिदू
53.    हिरिम बोदरा, बानसिड, चिकिड्
54.    होनहागा जामुदा, कांडेयड, सिरका, बालमुचू, दोंगो
55.    होनोरमुटू ——————
56.    हुजिया बोदरा, बनसिहं
57.    ईचःगुटू बोदरा, बनसिहं, बानरा
58.    जामुदा कांडेयड, अंगारिया, होनहागा, लगुरी, कुदादः, दोंगो
59.    जारिका दोराईबुरु, कन्डाईबुरु, हाईबुरु
60.    जेराई बालमुचू, सिंकू
61.    जेराईजोपोड़(जेराई) —————–
62.    जिरुवा —————–
63.    जोजो टेःबड़ाय, डुकरी, बोयपाई
64.    जोजोबा’ (जोजो) ——————–
65.    जोंको दोंगो, जामुदा
66.    जोरो ———————
67.    काईका मेलगांडी
68.    कैरोम(कयोम) तिरिया
69.    कालुन्डिया बारी, सावैंया, आल्डा, करवा, सोय
70.    कन्डाईबुरु हाईबुरु, दोराईबुरु, जारिका
71.    कांडेयड जामुदा, होनहागा, लागुरी, सिंकू
72.    करवा कालुन्डिया, कुरली, करमा
73.    कायोम टूंटी
74.    केराई ——————–
75.    केराईबुरू(केराई) ————————–
76.    किंबो ————————-
77.    कोःकुईया(कोःकुई?) ————————-
78.    कोंडडकेल ———————-
79.    कोड़ाः बोयपाई, हेम्बारोम, चातार
80.    कुदादः बुड़ीउली, हांसदः, तुबिड्
81.    कुंकल तामसोय, सोय, पाड़ेया, पिंगुवा, बरजो
82.    कुलडी पिंगुवा
83.    कुंटी ———-
84.    कुंटिया —————
85.    कुरली मारली, बारला
86.    लागुरी सिंकू, जामुदा, बोरोय, चातार
87.    लामाये लेयांगी, मुण्डरी, तोबोगा, ओमोंड
88.    लेयांगी लामाये, मुण्डरी, तोबोगा, आमोंड
89.    लोवादः ———————-
90.    लुगुन हेस्साः, बारिड
91.    मारला(बारला?) —————
92.    मारली अंगारिया
93.    माटीसोय सोय, तामसोय, पाड़ेया
94.    मेलगांडी काईका
95.    मेरेल(मारला?) ———————-
96.    मुण्डा दिग्गी, पुरती
97.    मुण्डरी लामाये, लेयांगी, तोबोगा, ओमोड, बोदरा
98.    मुंदुईया बांदिया, मुण्डा ?
99.    मुदुकन ———————-
100.मुतुरी ———————-
101.ओमोड लामाये, लेयांगी, मुण्डरी, तोबोगा
102.पाड़ेया कुंकल, सोय, तमसोय, माटीसोय
103.पिंगुवा हेस्साः, कुंकल, कुलड़ी, मारली, दिग्गी
104.पुरती दिग्गी, मारली
105.रिडाः ——————
106.समाड् ———————-
107.संडि सुण्डी
108.सांडिल —————–
109.सावैंया बारी, तुबिड्, सुम्बरुई
110.सेकरा ————————–
111.सिदू सिंकू, तुबिड्, सुम्बरुई
112.सिजुई केराई, बोदरा
113.सिंकू बोबोंगा, चातोम्बा, लागुरी, सिदू, जेराई, बालमुचू, सिहंकुंटिया, कांडेयड
114.सिरका होनहागा, चाम्पिया, अंगारिया, मारली
115.सोय तमसोय, माटीसोय, कुंकल, डुकरी, पाड़ेया
116.सुम्बरुई सिदू, सुरीन ?
117.सुण्डी देवगम, उगुरसुण्डी
118.सुरीन(तैसुम) बोयपाई
119.तमसोय सोय, कुंकल, पाड़ेया, माटीसोय, लागुरी, सिंकू?
120.तपेः सोय, माटीसोय
121.टेःबड़य ——————
122.तिरिया केराई, कैरोम, कालुन्डिया, बुरुमः
123.टिटिंगा ————————-
124.तियू बानरा, गोड्सोरा
125.तोबोगा लामाये, लेयांगी, मुण्डरी, ओमोड
126.तोंडडकेल ————-
127.तोपनो तपेः
128.तोरकोड ————–
129.तुबिड् बुड़िउली, हांसदः, सिदू, कुदादः, दोराईबुरु
130.टुंटी कुंटिया
131.उगुरबोलो ———————
132.उगुरसंडि सुण्डी

 

दमा दुमेंग   बनाम  रुतू  सुसून  दुरं किलि