बनाम

बनाम एक प्रकार का वध्य यंत्र है जिसे बैर (एक प्रकार का फल) पेड़ के द्वारा संरचना प्रदान  की जाती है । उस संरचना के चौड़े क्षेत्र को जहाँ बैर के पेड़ के द्वारा बनाई गई खोखली संरचना होती है, उसके ऊपर तोर्र ( एक जंगली गिरगिट) के खाल द्वारा ढाकी जाती है। इसके साथ बाँस  के डाँटल  पर अलग से घोड़े के बाल को दोनों छोर पर बाँधा जाता है। बनाम के खोखले वाली संरचना की ओर घोड़े की बाल को उठाने के लिए लकड़ी से ओट बनाया जाता है, जिसे  ‘हो’  मे गंडू कहा जाता है। घोड़े के बाल द्वारा कसी गई दोनों यंत्रों को लय पूर्वक मरधन किया जाता है और  बनाम से सुरीली आवाज निकलती है। हो जन-जाति के विश्वास के अनुसार बनाम को पुरुष का दर्जा दिया गया है।

 

 

दमा दुमेंग   बनाम  रुतू  सुसून  दुरं किलि